क्रिप्टोकरेंसी का भविष्य 2023 l future of cryptocurrencies 2023

Rate this post

क्रिप्टोकरंसी ने फाइनेंस और डिजिटल सिक्को को एक नई क्रांति का रुप दिया है जो पूर्ण रूप से सुरक्षित ट्रांजेक्शन का प्रूफ का दावा है बिटकॉइन डिजिटल सिक्को के बढ़ने के साथ क्रिप्टोकरंसी के बढ़ने की स्थिति को देखा जा रहा है जिसके भविष्य के बारे में आपको आज बताएंगे

क्रिप्टो का प्रचलन इन कुछ वर्षो में सबसे अधिक हुआ है क्योंकि क्रिप्टो निवेश के मूल्य मै लगातार वृद्धि हुई है

2023,2024 में क्रिप्टो का भविष्य

क्रिप्टो को पिछले कुछ वर्षो में बढ़ता देखकर सभी इसके बारे में अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए जागरूक है और उसके कारण क्रिप्टो निवेश की संख्या भी बहुत मात्रा में बढ़ी है

1.भारत में लगभग 115 मिलियन क्रिप्टो निवेशक हैं जो भारतीय आबादी का लगभग 15% हैं

2.सबसे ज्यादा क्रिप्टो निवेशक भारत देश के अंदर है

3.क्रिप्टो के निवेश में क्रिप्टो ट्रेडिंग में 125% अधिक की वृद्धि हुई है

4.सोशल नेटवर्किंग साइट्स और मीडिया पर हर सेकंड एक नए पोस्ट को डाला जाता है

5.क्रिप्टोकरंसी को अपनाना दुनिया भर के उभरते बाजारों में सबसे ज्यादा है

क्रिप्टो काम कैसे करता है

क्रिप्टोकरंसी एक लेन देन की सुरक्षा और डिजिटल रिकॉर्ड्स के निर्माण की अनुमति देती है क्रिप्टो का इस्तेमाल करने के लिए आपको एक वॉलेट की जरूरत होती है जिसमे आप अपने सिक्को को लेकर इक्कठा कर सकते हैं इन वॉलेट से सिक्को को एक दूसरे के पास भी यह ट्रांसफर किया जाता है जिसका सम्पूर्ण रिकॉर्ड ब्लॉक चैन पर होता है

क्रिप्टोकरेंसी में निवेश करने के लाभ

क्रिप्टो में निवेश से पहले इसके लाभ की जानकारी

1.क्रिप्टो में निवेश करने से उच्च रिटर्न की संभावना होती है जो निवेशक को अच्छा प्रॉफिट बना कर देता है पर इसमें इंवेस्टमेंट काफी सावधान रहकर करना चाहिए

2.यह बैंकों जैसे मध्यस्थों की आवश्यकता को समाप्त करने वाले व्यक्तियों के बीच सीधे ट्रांज़ैक्शन करते हैं इसके अलावा, ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी पारदर्शिता और सुरक्षा सुनिश्चित करती है, जिससे दुर्भावनापूर्ण कलाकारों के लिए ट्रांज़ैक्शन रिकॉर्ड से छेड़छाड़ करना बहुत कठिन हो जाता है.

3.स्टॉक और बॉन्ड जैसे पारंपरिक इन्वेस्टमेंट विकल्पों में क्रिप्टोकरेंसी मार्केट में सीमित एक्सपोज़र हो सकता है. अच्छी तरह से संतुलित पोर्टफोलियो में क्रिप्टोकरेंसी शामिल करके, निवेशक जोखिमों को कम कर सकते हैं

क्रिप्टो में निवेश करने के नुकसान

क्रिप्टो के नुकसान

1.क्रिप्टो मार्कट अस्थिर है जो शॉर्ट टर्म इंवेस्टमेंट वाले निवेशक के लिए नुकसान पहुंचा सकते हैं इसमें कीमत के अचानक बदलाव देखने को मिलता है

2.साइबर सुरक्षा खतरों की संभावना होती है. हैकिंग प्रयास, स्कैम और फिशिंग अटैक के परिणामस्वरूप फंड का नुकसान हो सकता है.

3.निवेशकों को अपनी क्रिप्टोकरेंसी होल्डिंग की सुरक्षा के लिए सावधानी बरतनी चाहिए और मजबूत सुरक्षा उपाय अपन

अन्य पढ़े 👇

क्रिप्टो रिलेटेड

FAQ

भारत में क्रिप्टोकरेंसी की अनुमति क्यों नहीं

वर्ष 2020 में भारत के सर्वोच्च न्यायालय ने RBI द्वारा क्रिप्टोकरेंसी पर अधिरोपित प्रतिबंध को निरस्त कर दिया। वर्ष 2022 में भारत सरकार ने केंद्रीय बजट 2022-23 में स्पष्ट रूप से उल्लेख किया कि किसी भी आभासी मुद्रा/क्रिप्टोकरेंसी परिसंपत्ति का हस्तांतरण 30% कर कटौती के अधीन होगा

Leave a Comment