ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी क्या है पूरी जानकारी? l What is blockchain technology full information?

Rate this post

रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन ने कहा है कि वह ब्लॉकचेन तकनीक में बहुत विश्वास रखते हैं और यह विश्वास-आधारित, न्यायसंगत समाज के लिए बहुत महत्वपूर्ण है।

ब्लॉकचेन तकनीक क्या है?

ब्लॉकचेन तकनीक एक ऐसी तकनीक है जो ब्लॉकों की एक श्रृंखला की ओर ले जाती है, जिसके डेटाबेस में संग्रहीत डिजिटल जानकारी होती है। यह एक वितरित डेटाबेस है जो एक ही समय में कई कंप्यूटरों पर मौजूद होता है, जो लगातार बढ़ता रहता है क्योंकि इसमें रिकॉर्डिंग या ब्लॉक के नए सेट जोड़े जाते हैं।

ब्लॉकचेन तकनीक उत्पत्ति कैसे हुई?

इसकी उत्पत्ति के संदर्भ में अभी स्पष्ट रूप से नही कहा गया है बिटकॉइन का आविष्कार करने वाले स्यूडोनिम सातोशी नाकामोटो (pseudonym Satoshi Nakamoto) नामक व्यक्ति द्वारा बनाए गए लोगों के एक समूह ने क्रिप्टोकरेंसी (cryptocurrency) को समर्थन देने के लिये इस प्रौद्योगिकी की खोज की।

ब्लॉकचेन तकनीक कैसे काम करता है?

ब्लॉकचैन तकनीक का मतलब एक ब्लॉक से दूसरे ब्लॉक , दूसरे ब्लॉक से तीसरे ब्लॉक इसी क्रम में आगे से आगे चलते रहना जो आगे एक दूसरे से जुड़ते जाते हैं और जिससे ये चेन के रूप में चलती जाती है इसे ब्लॉक चैन कहा जाता है

यह ब्लॉक एक दूसरे के साथ जुड़कर अनेक डेटा के साथ संबंध रखता है और इससे जो चेन बनती है जो क्रिप्टोग्राफी के द्वारा बनाई जाती है

इन ब्लॉक से जुड़े सभी ब्लॉक्स को खास रूप से बनाया जाता है जिसमे मेटा डाटा व सभी ट्रांजेक्शन का डाटा शामिल होता है

Blockchain का इतिहास क्या है?

सन 2008 में सतोशी नाकामोटो नाम के एक व्यक्ति ने सबसे पहले ब्लॉकचेन को खोजा था।

नाकामोटो ने हैशकैश जैसी विधि का उपयोग करके ब्लॉक को एक विश्वसनीय पार्टी द्वारा हस्ताक्षरित किए बिना timestamp करने के लिए एक महत्वपूर्ण तरीके से डिजाइन में सुधार किया।

एक मुश्किल पैरामीटर को पेश किया जिसके साथ श्रृंखला में ब्लॉक जोड़े जाते हैं।

Blockchain के प्रकार का होता है

ब्लॉकचैन चार प्रकार के होते हैं

  1. Public Blockchain
  2. Private Blockchain
  3. Hybrid Blockchain
  4. Sidechain

1. Public Blockchain यह ब्लॉकचेन एक कंप्यूटर ओपन नेटवर्क है जो एक दूसरे के लेन देन का अनुरोध करना चाहते हैं जो सभी के लिए आसान है

उदाहरण बिटकॉइन और ऐथेरियम

2. Private Blockchain यह ब्लॉकचेन ओपन नेटवर्क नही है इसमें डाटा का लिमिटेशन है

उदाहरण – Hyper Lager एक निजी लायसेंट प्राप्त ब्लॉकचैन है।

3. Hybrid Blockchain हाइब्रिड ब्लॉकचैन सार्वजनिक ओर निजी ब्लॉकचैन से मिलकर बना है इसमें केंद्र व विकेंद्री सारी गुणवता भरपूर है

4. Sidechain सिदेचैन मुख्य श्रृंखला के समांतर चलती है, इसकी मदद से दो अलग अलग ब्लॉकचैन के बीच डिजिटल संपत्ति को स्थानातरित करने की अनुमति मिलती है।

ब्लॉकचेन तकनीक के लाभ

ब्लॉकचैन तकनीक के लाभ

  1. ब्लॉकचेन संवेदनशील डेटा को ऑनलाइन लेनदेन से सुरक्षित और सुरक्षित कर सकते हैं।
  2. सुविधाजनक लेन-देन की तलाश में व्यक्ति के लिए सुविधा उपलब्ध करवाती है
  3. इसमें केवल कुछ मिनट लगते हैं, जबकि अन्य लेन-देन विधियों को पूरा होने में कई दिन लग सकते हैं।

ब्लॉकचेन प्रौद्योगिकी के संभावित अनुप्रयोग

ब्लॉकचैन के अनुप्रयोग

उद्योग :कुछ कंपनियां जिन्होंने अपने कामकाज में ब्लॉकचेन को एकीकृत किया है, वे हैं वॉलमार्ट, फाइजर, एआईजी, सीमेंस, यूनिलीवर, आदि

हेल्थकेयर:ब्लॉकचेन का उपयोग मरीजों के मेडिकल रिकॉर्ड को स्टोर करने के लिए किया जा सकता है। डेटा अपरिवर्तनीय है, इसलिए इसके साथ छेड़छाड़ की संभावना भी नहीं है।

कृषि: फोर्ब्स के अनुसार, ब्लॉकचेन खाद्य उद्योग में एक नायक के रूप में प्रवेश कर रहा है क्योंकि यह खेत से खरीदार/उपयोगकर्ता तक की यात्रा के रास्ते और सुरक्षा को ट्रैक करना आसान बनाता है

बैंकिंग: ब्लॉकचेन को अपने व्यवसाय में एकीकृत करने से बैंकिंग उद्योग को सबसे अधिक लाभ हुआ है। इससे उनकी दक्षता बढ़ी है, लेनदेन का समय और शुल्क कम हुआ है, उन्हें ग्राहक डेटा संग्रहीत करने में मदद मिली है,

शासन:ब्लॉकचेन तकनीक सुशासन सुनिश्चित करने में मदद कर सकती है। यह डिजिटल फॉर्म प्लेटफॉर्म के उपयोग के माध्यम से सार्वजनिक रिकॉर्ड की पारदर्शिता सुनिश्चित करता है और सरकारी दस्तावेजों की ऑडिटिंग की अनुमति देता है

ब्लॉकचेन प्रौद्योगिकी के समक्ष संभावित चुनौतियाँ

  • इन्फ्रास्ट्रक्चर और क्रॉस डोमेन अनुप्रयोग
  • डेटा सुरक्षा और गोपनीयता
  • स्केलेबिलिटी और लेनदेन की गति (प्रति सेकंड अधिक संख्या में लेनदेन प्राप्त करना)
  • एआई और डेटा एनालिटिक्स लागू करना
  • मानकीकरण और अंतरसंचालनीयता
  • विनियामक पहलू
  • कुशल जनशक्ति (प्रतिभा)
  • विकेन्द्रीकृत बुनियादी ढाँचा
  • पारिस्थितिकी तंत्र और सहायक ढांचा

ब्लॉकचेन तकनीक (Blockchain Technology) का इस्तेमाल कहाँ-कहाँ और कैसे किया जा सकता है ?

यह माना जाता है कि यह सिर्फ क्रिप्टोकरेन्सी से जुड़ा लेकिन ऐसा नहीं है। क्रिप्टो करेंसी और वित्तीय लेनदेन के अलावा ब्लॉकचेन तकनीक का इस्तेमाल कानूनी कागजात, स्वास्थ्य आकड़े, नोटरी और निजी दस्तावेज सुरक्षित रखने में भी किया जा सकता है। इसके अलावा ब्लॉकचेन तकनीक का इस्तेमाल सब्सिडी वितरण, भू-रिकॉर्ड नियमन और सरकारी योजनाओ का हिसाब किताब रखने में भी किया जा सकता है।

इस तकनीक का उपयोग क्लाउडेड स्टोरेज, डिजिटल पहचान, स्मार्ट कॉन्ट्रैक्ट और डिजिटल मतदान में भी किया जा सकता है। कई ऐसे विचार एवं योजनाएं जो ढांचागत कमियों, उच्च लागत, केन्द्रीकरण और धीमे नेटवर्क की वजह से अभी तक कारगर नहीं मानी जाती थी, ब्लॉकचेन तकनीक ने उन्हें काफी हद तक आसान बना दिया है।

  1. दुनिया में कई जगह वाणिज्य संपत्ति को किराये पर देने के लिए प्रॉपर्टी डीलर्स ब्लॉकचेन तकनीक का इस्तेमाल कर रहे है।
  2. क्लाउड होस्टिंग प्लेटफार्म में उपयोग।इसका इस्तेमाल शैक्षिक जानकारियों के लिए कर रहे है।
  3. अमेरिका जैसे देशो में छात्रों, अध्यापको और कंपनियों को पारदर्शी एवं सुरक्षित प्लेटफार्म, इसकी सहायता से मुहैया कराये जा रहे है।
  4. वित्तीय क्षेत्र से जुडी कंपनिया ब्लॉकचेन तकनीक से जुड़े तमाम कामकाज में तेजी से अपना प्रसार कर रही है।

FAQ

क्या ब्लॉकचेन बंद हो सकता है?

इसे प्रतिबंधित करना जरूरी हो जाता है। इस काम में ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी रिकॉर्ड को बनाने में मदद कर सकती है। ब्लॉकचेन में सारा डेटा एंड टू एंड गारंटीड एन्क्रिप्टेड होता है और इस डेटा को कोई गलत तरीरके से बदल नहीं सकता है।

ब्लॉकचेन भविष्य क्यों नहीं है?

ब्लॉकचेन कभी-कभी विलंबता और कम थ्रूपुट के मुद्दों के साथ एक दर्दनाक धीमी तकनीक (जैसे, 90 के दशक की डायल-अप धीमी) हो सकती है – मुख्य रूप से क्योंकि इसके लिए ‘वोटिंग’ के एक रूप की आवश्यकता होती है

क्या बिटकॉइन ऑफलाइन जा सकता है?

खनिकों को बिटकॉइन लेनदेन डेटा देने के लिए इंटरनेट-सक्षम उपकरणों की आवश्यकता होती है। एक डिजिटल मुद्रा के रूप में, आप इंटरनेट के बिना बिटकॉइन खरीद, बेच या विनिमय नहीं कर सकते

Leave a Comment